नक्सलियों के खिलाफ सारंडा बनेगा अभियान का केंद्र

रांची : नक्सलियों के खिलाफ अब सारंडा में चौतरफा घेरेबंदी की तैयारी है। सारंडा को नक्सल विरोधी अभियान का केंद्र बनाया जाएगा। दूसरे राज्यों से सटी झारखंड की सीमा खासकर ओडिशा सीमा पर सख्ती होगी ताकि अभियान के दौरान हार्डकोर नक्सली दूसरे राज्यों में शरण नहीं ले पाएं। यह प्लान पुलिस मुख्यालय ने तैयार किया है, जिसे अमलीजामा आठ जून को ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में पहनाया जाएगा।

भुवनेश्वर में इंटर स्टेट इंटेलिजेंस को-आर्डिनेशन कमेटी की बैठक होनी है, जिसकी अध्यक्षता केंद्र सरकार के सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार करेंगे। बैठक में आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, ओडिशा, तेलंगाना व पश्चिम बंगाल के आला पुलिस अफसरों के अलावा इंटेलिजेंस ब्यूरो (आइबी), राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) व केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के भी अफसर शामिल होंगे। डीजीपी डीके पांडेय, विशेष शाखा के एडीजी अनुराग गुप्ता, एडीजी ऑपरेशन आरके मल्लिक व आइजी ऑपरेशन आशीष बत्र सात जून को ही भुवनेश्वर रवाना हो जाएंगे।

इस बैठक में राज्यों की सीमा पर सुरक्षा को सख्त करने, आपसी समन्वय स्थापित करने, इंटेलिजेंस सूचनाओं का आदान-प्रदान करने, बल की प्रतिनियुक्ति, अंतरराज्यीय सड़क संपर्क की समस्या को दूर करने पर प्लान तैयार होगा।

Courtesy: https://epaper.jagran.com/ePaperArticle/06-jun-2018-edition-Ranchi-page_2-3214-11921-212.html


 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.