पुलिस के लिए सामाजिक सुरक्षा का दायित्व अहम

Recent Photograph of Police Events

रांची : राज्यपाल द्रौपदी मुमरू ने सामाजिक पुलिसिंग और भयमुक्त झारखंड बनाने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मी सामाज में भयमुक्त वातावरण बनाने में सहयोग करें, ताकि लोग हमेशा भयमुक्त वातावरण में रहें। पुलिसकर्मियों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद जताते हुए कहा कि समाज की सुरक्षा का दायित्व समाज के लिए अहम होता है। ऐसे में प्रशासन की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। वह शनिवार को खेलगांव में 14वीं झारखंड पुलिस खेलकूद प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में बोल रही थीं।

पहले पांच सौ मामलों में सजा की दर 68 फीसद : मौके पर पुलिस महानिदेशक डीके पांडेय ने राज्यपाल को भरोसा दिलाया कि झारखंड पुलिस राज्य की जनता को भयमुक्त समाज देने के लिए संकल्पबद्ध है। अपराधियों में कानून का भय हो, इसे लेकर मामलों का स्पीडी ट्रायल शुरू करवाया गया है। पहले पांच सौ मामलों में सजा की दर 68 फीसद है। इसे दूसरे चरण में बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा। डीजीपी ने इस मौके पर प्रतियोगिता में शिरकत कर रहे सभी पुलिस खिलाड़ियों से खेल भावना का प्रदर्शन करते हुए बेहतर खेलने की उम्मीद जताई।

15 सौ से अधिक पुलिस खिलाड़ी कर रहे शिरकत : पुलिस खेलकूद प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम और मार्च पास्ट भी किया गया। 12 जून तक चलनेवाली इस प्रतियोगिता में पुलिस के सभी नौ रेंज के 15 सौ से अधिक पुलिस खिलाड़ी शिरकत कर रहे हैं, जो खेल की विभिन्न स्पर्धाओं में अपना जौहर दिखाएंगे। बेहतर खेल प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों का चयन राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली टीम के लिए किया जाएगा। जैप 10 की महिला बटालियन ने शानदार नृत्य प्रस्तुत कर मौजूद लोगों का दिल जीत लिया।

Courtesy: https://epaper.jagran.com/ePaperArticle/10-jun-2018-edition-Ranchi-page_9-3525-7212-212.html


 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.