100 से अधिक हत्याएं कर चुका है करमा

खूंटी : पीएलएफआइ के खूंखार जोनल कमांडर करमा उरांव के साथ पुलिस ने दो अन्य उग्रवादियों को भी गिरफ्तार किया था। करमा के अलावा सक्रिय सदस्य लोधा उरांव व बहुरा साहू शामिल हैं। करमा उरांव लापुंग थानांतर्गत महुगांव, लोधा उरांव कर्रा क्षेत्र के बक्सपुर व बहुरा साव बक्सपुर ऊपरटोला का रहनेवाला है। उनके पास से पुलिस ने 9 एमएम की लोडेड पिस्टल, दो जिंदा कारतूस व आठ मोबाइल बरामद किया गया है। मोबाइल का उपयोग लेवी मांगने व लोगों को डराने-धमकाने में किया जाता था। पुलिस इसकी जांच कर रही है। उक्त जानकारी डीआईजी संपत मीणा ने खूंटी एसपी कार्यालय में पत्रकार वार्ता में दी। उन्होंने बताया कि करमा उरांव हत्या करने में अत्यंत ही क्रूर तरीका अपनाता था। डीआईजी ने बताया कि करमा ने पुलिस के समक्ष 100 से अधिक हत्याएं करने की बात स्वीकारी है। वह हमेशा 9 एमएम पिस्टल व एक-56 से लैस रहता था। उसके पास से 9 एमएम की पिस्टल बरामद की गई, जबकि उसकी पत्‍‌नी गिरफ्तारी के समय एके-56 लेकर कहीं फरार हो गई। डीआईजी ने बताया कि कर्रा थाना में करमा के विरुद्ध 14 हत्याकांड एवं एक शस्त्र अधिनियम का मामला दर्ज है। रांची के लापुंग थाना में 20 हत्याकांड का वह नामजद अभियुक्त है। रेल थाना हटिया में उसके खिलाफ हत्या के दो मामले दर्ज हैं। डीआईजी ने बताया कि किस-किस जिले के थानों में करमा के खिलाफ कितने मामले दर्ज हैं इसकी जानकारी एकत्रित की जा रही है।

बदले की भावना से बना उग्रवादी : वर्ष 2000 में सम्राट गिरोह के सुप्रीमो जयनाथ साहू द्वारा करमा उरांव के पिता लोहरा उरांव को गोली से उड़ा दिया गया था। बदले की भावना से ही करमा पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप के संपर्क में आया और इसका सक्रिय सदस्य बन गया। बाद में यह कई घटनाओं को अंजाम देकर पीएलएफआइ का जोनल कमांडर बना। साथ ही दिनेश गोप का खास सहयोगी बना। लोधा साहू के खिलाफ दर्ज हैं मामले : लोधा साहू के विरुद्ध बकसपुर गांव में वरुण प्रधान व उसके माता-पिता को मारपीट कर रेल टै्रक पर उन्हें फेंकने घर का सामान उठा लेने के संबंध में कर्रा थाना में नामजद मामल दर्ज है। ठेकेदार की हत्या के बाद सक्रिय हुई पुलिस : 25 नवंबर की शाम बमरजा में विश्र्वनाथ गोप व उसके अंगरक्षक नीरज कुमार की हत्या में करमा उरांव नामजद अभियुक्त थे। मामले में उसके अन्य सहयोगियों के खिलाफ कर्रा थाना में नामजद मामला दर्ज है। इस घटना के बाद एसपी तमिल बेनन के नेतृत्व में पुलिस ने सरगर्मी से उसकी तलाश शुरू कर दी। गुप्त सूचना के आधार पर खूंटी पुलिस द्वारा करमा को उसकी ससुराल कर्रा की सरनाटोली से गिरफ्तार किया गया।

Courtesy: Dainikjagran29.11.2011


 Back to Top

Office Address: Jharkhand Police Headquarters, Dhurwa, Ranchi - 834004

Copyright © 2019 Jharkhand Police. All rights reserved.