पलामू (28/05/2018): सर्च ऑपरेशन के दौरान पुलिस और नक्सलियों में मुठभेड़, तीन एरिया कमांडर ढेर, तीन अरेस्ट

District: 
Date of Achievement: 
28/05/2018
Nature of Work: 
Achievement Against Naxals

Recent Photograph of Police Events

पलामू : छतरपुर थाना क्षेत्र के हेसाग, डुंडुर पहाड़ी पर पुलिस व तृतीय प्रस्तुति कमेटी (टीपीसी) के नक्सलियों के बीच दिन में करीब दो घंटे भीषण मुठभेड़ हुई। इसमें तीन एरिया कमांडर ढेर हो गए। तीन नक्सलियों को गिरफ्तार भी किया गया। इस दौरान एके 47 समेत भारी मात्रा में हथियार जब्त किए गए।

एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि मुठभेड़ में दोनों ओर से करीब 500 चक्र गोलियां चली। मुठभेड़ दिन के 11:45 बजे से 1:30 बजे के बीच हुई। इसके बाद देर शाम तक सर्च अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि सीआरपीएफ व राज्य पुलिस की संयुक्त टीम टीपीसी उग्रवादी की सूचना पर हेसाग गांव की ओर गए थे। गांव पार कर डुंडुर पहाड़ी पर जैसे ही पुलिस के जवान चढ़ने लगे एक लड़का नजर आया। पुलिस ने जब उससे पूछा कि तुम कौन हो? तब वह चिल्ला पड़ा- नीचे पुलिस है।

इसके बाद पुलिस बल पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू हो गई। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी गोलियां चलाई। इस भीषण मुठभेड़ में टीपीसी के तीन एरिया कमांडर मारे गए, जबकि तीन जिंदा पकड़ लिए गए। इसमें उग्रवादी लल्लू सिंह पुलिस की गोली से घायल हो गया था, जिसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि विकास पासवान व एक नाबालिग को पुलिस ने जिंदा पकड़ लिया है। वहीं, मुठभेड़ में मारे गए उग्रवादियों में पाटन के नावाजयपुर का रहने वाला अमरजीत, चतरा का पवन शर्मा व गढ़वा के चंदन का नाम शामिल है।

एक एके-47 और दो एसएलआर बरामद

एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि सर्च अभियान के दौरान एक एके 47, दो एसएलआर, तीन राइफल, एक देसी राइफल, कई डायरी, लेवी के करीब 1 लाख रुपए, काफी संख्या में कारतूस और पीठू समेत कई सामाग्री बरामद की गई है।

दिन में 10 बजे एसपी को गुप्ता सूचना मिली थी कि हेसांग गांव में पहाड़ी पर काफी संख्या में बाहरी लोग रविवार की रात से जमे हुए हैं। इसमें टीपीसी का जोनल कमांडर निशांत व गिरेंद्र का दस्ता भी है। दस्ता में 24 उग्रवादी हैं। इसी सूचना पर अभियान एसपी अरूण कुमार सिंह, एसपी ने अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शंभू सिंह, प्रशिक्षु डीएसपी विमलेश त्रिपाठी व सीआरपीएफ एल्फा के डिप्टी कमांडेंट राजेंद्र व थाना प्रभारी बासुदेव मुंडा के नेतृत्व में टीम को छापेमारी के लिए भेजा। हेसांग गांव पार करते ही टीपीसी उग्रवादियों ने पुलिस पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई। जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने यह उपलब्धि हासिल की। मारे गए नक्सलियों के शव व घटनास्थल से बरामद हथियार को एसडीओ राजेश प्रजापति, कार्यपालक दंडाधिकारी गिरिवर मिंज, बीडीओ रामरतन वर्णवाल की उपस्थिति में पंचनामा व जब्ती सूची बनाई जा रही है।

Courtesy: https://www.bhaskar.com/jharkhand/ranchi/news/infog-police-and-maoists-encounter-in-search-operation-two-naxalites-were-killed-5882310.html

BACK

 Back to Top

Copyright © 2011 Jharkhand Police. All rights reserved.